Chakradharpur Button Lake चक्रधरपुर बटन लेक

चक्रधरपुर रेलवे कॉलोनी में एंग्लो इंडियन कम्युनिटी की समृद्ध एंग्लो इंडियन द्वारा किया गया था। बर्टन लेक जो अब एक हैंगआउट ज़ोन है

Chakradharpur Button Lake

Chakradharpur Button Lake

बतन लेक चक्रधरपुर डिवीजन के बालाजी मंदिर के पास है। कई साल पहले, दो-तीन तालाब थे, लेकिन बाद में, चक्रधरपुर रेलवे डिवीजन के तहत इन तालाबों को फिर से बनाया गया और सुंदर और आकर्षक बनाया गया और अंत में इसका नाम बर्टन लेक रखा गया जो एक नौका केंद्र बन गया है। शहर के लोग अपने परिवारों के साथ नौका का आनंद लेने यहां आते है।

याहा हर साल 26 जनवरी ओर 15 ऑगस्ट को तिरंगा लहराया जाता है

यह अब एक मौज मस्ती और नोका चलाने के आनंद लेने का स्थान है याहा सभी परिबार के साथ जाते है चट्टी के दिनों में सभी अपने बछो को याहा लेजाना पस्सन्द करते है
याहा हर साल 26 जनवरी ओर 15 ऑगस्ट को तिरंगा लहराया जाता है। ओर पूरा बटन लेक को सजाया जाता है लाइट से याहा सभी साम को घूमने जाते है किउंकि रात को लाइट से सजे होने से रात को अधिक सुंदर लगता इसलिए सब रात को जान पस्सन्द करते है

जब सूरज अपने गर्व से लाल रंग बिखरते रहता है

Chakradharpur Button Lake

ओर एक चीज जो इस जगह का सुंदरता को बढ़ाता है याहा रखा हुआ राज हंसः 10 से 12 राज हंसः है जो तालाब में ख़ुम्ते रहते है जिसे सभी देख के बहुत खुश होते है सैम के समय जब तालाब में नॉक्का चलते हुए जब सूरज अपने गर्व से लाल रंग बिखरते रहता है तब तालाब में ये हंसः तैरते रहते है वो दृषिय बहुत सुंदर होता है
याहा साम के समय फ़हीसिंह भी कर सकते है आप याहा एकांत में बैठ के यह आनंद ले सकते है

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap